अमेठी में राहुल गाँधी जी के द्वारा किए काम, भाजपा रिनेम, रिलान्च व रिपैकजिग कर रही है-अनिल सिंह

अंजनी मिश्रा की विशेष रिपोर्ट

अमेठी, 3जनवरी2019 / (शिखर सत्ता)। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी अमेठी प्रवक्ता अनिल सिंह शिखर सत्ता से विशेष बातचीत में कहा कि राहुल गांधी जी ने एक सांसद की हैसियत से ज्यादा, बिना किसी राजनीतिक फायदे के लिए नहीं बल्कि अमेठी के लोगों की वाजिब चिंताओं को सुनने, समझने और दूर करने की कोशिश करते है। अमेठी से कांग्रेस पार्टी का जुड़ाव राजनीतिक फायदे के लिए नहीं है बल्कि यहां के दीर्घकालिक विकास के लिए है। दरअसल, 80 के दशक से लेकर आज तक, कांग्रेस ने अमेठी के विकास पर अपना पूरा ध्यान केंद्रित करके ही यहां लोगों का दिल जीता है।

जहाँ तक बुनियादी ढांचे की बात है अमेठी के सभी क्षेत्रों में तेजी से प्रगति हुई है, चाहे वो ग्रामीण विद्युतीकरण, सड़कों या रेलवे का मामला या फिर तमाम बैंको का खोलनि हो। राहुल गाँधी जी के समय उदाहरण के लिए…
अमेठी जिले की 727 ग्रामसभाओं का विद्युतीकरण किया गया है। सभी बीपीएल परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिए गए हैं। करीब 2700 सौर ऊर्जा लाइटों को लगाया गया है।

■ सड़कों का काम बेहतर हुआ है। अमेठी में इस समय 5 नेशनल हाईवे गुजरते है जो किसी भी जिले में अधिकतम है।

■ 2051 करोड़ रुपये की लागत से कुल 2290 किलोमीटर की सड़कों का निर्माण किया गया है।जिसमे 

(1) प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तहत 516 किमी सड़कें बनायी गयी हैं।

(2) श्री राहुल गांधी जी के साँसद निधि (एमपीएलएडी फंड) के माध्यम से 72 किमी सड़कें बनायी गयी है।

(3) राष्ट्रीय राजमार्ग योजना के माध्यम से 832 किलोमीटर सड़क बनाई गयी है।

(4) सीआरएफ के जरिये 870 किलोमीटर सड़कों का निर्माण हुआ है।

■ रेलवे विभाग में पिछले 7 वर्षों में 150 किलोमीटर लंबी नयी रेल लाइनें मंजूर की गयीं। इसमें लखनऊ प्रतापगढ दोहरीकरण व ऊँचाहार-गौरीगंज- अमेठी सुलतानपुर-शाहगंज रेलवे लाईन भी है। साथ ही अमेठी को जोड़ने के लिए कई रेल सेवाएं शुरु की गयीं। रेलवे के काम में प्रयास करके कुछ रेलवे स्टेशनों का विस्तार किया गया है, गौरीगंज फ्लाईओवर और अतिरिक्त यात्री सुविधाओं का किया गया है।

■ बुनियादी ढांचे के काम के अलावा, अमेठी में विभिन्न कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकारों के समय

-राजीव गांधी कंप्यूटर शिक्षा केंद्र,
-सीआरपीएफ भर्ती प्रशिक्षण केंद्र,
-एफडीडीआई फुरसतगंज परिसर,
-इंदिरा गांधी स्कूल ऑफ नर्सिंग,
-इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी,
-इंदिरा गांधी पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ पैरामैडिकल साइंस जैसे उत्कृष्ट संस्थान लाये गये। पूरा जोर शिक्षा को बढ़ावा देने, नौकरियों का सृजन करने और लोगों का जीवन स्तर बेहतर बनाने पर दिया गया है।

अमेठी में परियोजनाओं की कार्यप्रगति (यूपीए सरकार के समय स्वीकृत)

● सैनिक स्कूल, कोहर-गौरीगंज, 2014 में स्वीकृत

● राजीव गांधी राष्ट्रीय विमानन विश्वविद्यालय, फुरसतगंज, 2013 में अधिनियम पारित, लागत 200 करोड़ रुपये

●होटल प्रबंधन संस्थान, जगदीशपुर, 2013 में स्वीकृत, लागत- 50 करोड़ रुपये

● स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड की नयी इकाईयां, जगदीशपुर, 2010 में उद्घाटन, लागत 100 करोड़ रुपये

● अमेठी-ऊंचाहार नयी रेल लाइन, 2013 में आधारशिला रखी गयी, लागत 380 करोड़ रुपये

● रायबरेली-अमेठी रेल लाइन दोहरीकरण, 2013-14 में स्वीकृत, लागत 285 करोड़ रुपये

● अमेठी रेलवे स्टेशन पर बहुउद्देशीय कॉम्प्लेक्स, 2014 में शिलान्यास, लागत 1.25 करोड़ रुपये

● अमेठी के तिलोई में 200 बेड का अस्पताल लगभग पूर्ण

● अमेठी के जगदीशपुर में ट्रामा सेन्टर

● चार लेन वाला लखनऊ-सुल्तानपुर एनएच 56, 2012-13 में स्वीकृत, लागत 1565 करोड़ रुपये

● मुसाफिरखाना, जगदीशपुर में राष्ट्रीय राजमार्गों के लिए बायपास

● अमेठी में प्रतिदिन 72000 बोतल तैयार करने वाला रेल नीर प्लान्ट

● अमेठी के गौरीगंज में FM रेडियो चैनल की शुरुआत

● अमेठी जिले में लगभग 8 राष्ट्रीयकृत बैको की 20 नवीन शाखा व जगह जगह ATM

● अमेठी के टीकरमाफी में ट्रिपल आईआईआईटी कालेज, जिसे स्मृति ईरानी ने बंद कराकर सैकड़ों लोगों का रोजगार छीन लिया।

● अमेठी में हिन्दुस्तान पेपर मिल लागत (500 करोड़) जिसे मोदी सरकार ने छीनकर, महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले में भेज दिया।

● मेगा फूड पार्क जहाँ अमेठी के फल फूल सब्जी अनाज दूध को वातानुकूलित कोल्ड स्टोरेज मे रखकर निर्यात किया जाता उसे मोदी सरकार ने अमेठी से छीन लिया। इससे किसानों को फायदा होता।

● महिला स्वयं समूह से तकरीबन 10000 महिलाओं को रोजगार

● हजारों इन्डिया मार्का नल और इन्टरलाकिग

● बहुत से गाँव में बारातघर व सामुदायिक केन्द्र

● बहुत से विद्यालयो मे बच्चों को शुद्ध पीने का पानी उपलब्ध कराने हेतु RO प्लान्ट

● दिव्यांग लोगों को कृत्रिम अंग व साईकिल के साथ हर वर्ष गरीबों को हजारों कंबल वितरण

● अमेठी में प्रस्तावित 2000 वालीवाल क्लबो को वर्ष मे 3 बार वालीबाल किट देने का ऐलान

● इसी साल लगभग 1800 सौर ऊर्जा लाईट

● जिले के सभी पौराणिक/ धार्मिक स्थलों पर 16 हाई टावर फ्लड लाईट प्रस्तावित

मौजूदा भाजपा सरकार की घबराहट और छोटापन इतना अधिक है कि उन्होंने यूपीए सरकार द्वारा मंजूर अमेठी की कई परियोजनाओं को रोक दिया। ट्रिपल आईआईटी, मेगा फूड पार्क और जगदीशपुर में हिन्दुस्तान पेपर मिल रोकी गयी परियोजनाएँ है। लोगों के लिए रोजगार के कई सारे नये रास्ते खोलने वाली परियोजनाओं के विकास में दखल देना और उनको रोकना अमेठी को लेकर भाजपा की नकली चिंताओं का असली उदाहरण है।

कांग्रेस द्वारा अमेठी में शुरु की गयी विकास परियोजनाओं पर भाजपा प्रतिष्ठान इतना मोहित हो चुका है कि वो मौजूदा परियोजनाओं का ही दोबारा उद्घाटन कर रहा है। एक तरफ तो सत्ता में बैठे ये लोग इस बात को लेकर कोस रहे हैं कि पिछले 70 साल में कुछ नहीं हुआ और दूसरी तरफ, वे यूपीए सरकार के समय की योजनाओं का धूमधाम से नाम बदलकर, दोबारा पैकिंग करके और दोबारा शुरुकर के अपनी केन्द्र सरकार चला रहे हैं। अमेठी सांसद श्री राहुल गांधी जी ने, एक सांसद की हैसियत से पिछले कार्यकाल में जितना काम किया है वो सराहनीय है। मोदी/ ईरानी/ परिक्कर/ योगी सरकार के अमेठी विधायको व मंत्रियो ने अब तक कुछ भी नहीं किया है।

अंजनी कुमार मिश्रा अमेठी
अंजनी कुमार मिश्रा

Comments

comments

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com