दिलचस्प

2025 की एक शोकसभा

2025 की एक शोकसभा –  व्यंग्य आज का दिन हम सबके लिए बहुत दुख का दिन है। गम का दिन है। अपूरणीय क्षति का दिन है। उनके जाने से इतना बड़ा गड्ढा बन गया है जिसे कभी भरा नहीं जा सकेगा। आज कुछ ही घण्टे पहले माननीय श्री ऑनलाइन वल्द पोस्ट …

Read More »

कांटों भरी डगर हो गई है पत्रकारिता

इस देश में पत्रकारिता का रास्ता बेहद घातक हो गया है। यह राह कांटों से भरी हुई है। इसमें पग पग पर खतरा है। आपकी जान की सुरक्षा तो बिल्कुल नहीं है। कब आप पर हमला हो जाए, कब आपको मौत के घाट उतार दिया जाए कुछ नही कहा जा …

Read More »

तुम मेरे हो-कहानी- हेमलता त्रिपाठी

कहते हैं कि जिंदगी में बहुत ज्यादा मित्रों, शुभचिंतकों की जरूरत होती नहीं। सिर्फ एक कायदे का मिल जाए बस आप उसके सहारे जीवन के सारे उतार चढावों का सामना कर सकते हैं। जीवन में आने वाली सारी तकलीफों, दुखों में भी सुख महसूस कर सकते हैं। खासकर तब जब …

Read More »

ये कैसा रिश्ता-हेमलता त्रिपाठी

और बाबा मर गए। ‘रीना, बाबा नहीं रहे।’ ‘बाबा नहीं रहे।’ इन शब्दों ने मेरी तन्द्रा तोड़ दी। बाबा पिछले कई दिनों से मेडिकल कालेज में भर्ती थे। वे बहुत बुरी तरह से बीमार थे। कुछ दिन पहले एक रात उन्हें दिल का दौरा पड़ा था। आनन फानन में उनके …

Read More »

नज़्मों की मलिका- शिखर सत्ता की विशेष रिर्पोट हेमलता त्रिपाठी

मीना कुमारी फिल्म और नज्मों के दीवानों के लिए भारतीय मनोरंजन जगत का सबसे प्रमुख नाम हैं. ऐसी अप्रतिम कलाकार और रचनाकार कोई दूसरी नहीं। भारतीय फिल्म जगत की सर्वाधिक पसंदीदा अभिनेत्री मीना कुमारी ने इंडस्ट्री में चार दशक तक एकछत्र राज किया. इनकी अधिकतर फिल्मों में ट्रेजडी की वजह …

Read More »

अभिनन्दन पत्र-(जो दिया नहीं गया)-राजेश विक्रांत

                                                          व्यंग्य आज देवर्षि नारद जयंती के शुभ अवसर पर लोकायन की तरफ से आदि पत्रकार नारद सम्मान से दोपहर का सामना …

Read More »

भ्रष्टाचार एक बीमारी 

भ्रष्टाचार का सामान्य अर्थ किसी व्यक्ति के द्वारा किसी प्रतिष्ठित पद पर रहते हुए अपनी ताकत का अनुचित रूप से प्रयोग है। वैसे, भ्रष्टाचार शब्द से ऐसा प्रतीत होता है कि यह शब्द एक चोरी, अनैतिक या गलत व्यवहार का आशय है। शाब्दिक रूप में भ्रष्टाचार अर्थात भ्रष्ट + आचार। …

Read More »

स्वच्छता के लिए

कहते हैं कि साफ़ सफाई ईश्वर का दूसरा नाम है। स्वच्छता में ही ईश्वर का निवास होता है। जबकि गन्दगी में सिर्फ और सिर्फ बीमारियां ही होती हैं। इसलिए हम जहाँ भी रहते हैं, उस घर, गली, मोहल्ले, गाँव, शहर की स्वच्छता के लिए हमें न केवल तैयार रहना रहना …

Read More »

कहानी\अनोखा प्रेम \ हेमलता त्रिपाठी

“सरोज, मैं एक बात कहूं तुमसे?” “अरे, गुरु जी आप ऐसा क्यों बोल रहे हैं? आप हमें आदेश दीजिए।” “नहीं सरोज, इसमें आदेश जैसा कुछ नहीं है। यह बात मेरे मन में पिछले कई साल से चल रही है। मैं इस बात को तुमसे चाहकर भी बोल नहीं पाता था। …

Read More »

Viral Video: जब अपनी ही शादी में लाइव रिपोर्टिंग करने लगा पाकिस्तानी दूल्हा, सास से पूछा ये सवाल

पाकिस्तान में एक दूल्हे अपने निकाह के दौरान रिपोर्टिंग करनी करने लगा। पेशे से पत्रकार दूल्हे ने अपनी शादी में हाथ में माईक लेकर माता-पिता, सास-ससुर और दुल्हन से बात करते हुए रिपोर्टिंग की। दूल्हे की रिपोर्टिंग का यह दिलचस्प वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।  अमर …

Read More »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com